दैनिक प्रार्थना

हमारे मन में सबके प्रति प्रेम, सहानुभूति, मित्रता और शांतिपूर्वक साथ रहने का भाव हो.

Sunday, October 26, 2008

इस दीवाली पर ...........

पटाखे चलाइये,
अपने अन्दर सोये इंसान को जगाने के लिए,
दिए जलाइये,
अपने अन्दर गहराते अन्धकार को मिटाने के लिए.

प्रेम करो सबसे, नफरत न करो किसी से. 

आप सबको दीवाली की शुभकामनाएं. 

5 comments:

राज भाटिय़ा said...

दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें

निरन्तर - महेंद्र मिश्रा said...

दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें...

श्रीकांत पाराशर said...

achhi bhavnayen hain. diwali ki shubh kamnayen swikar karen.

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन said...

दीपावली पर हार्दिक अभिनन्दन!

कुन्नू सिंह said...

दिपावली की शूभकामनाऎं!!


शूभ दिपावली!!


- कुन्नू सिंह